top of page
Search
  • Writer's pictureTritech

कार-बाइक्स के बाद अब हवाई जहाज को इथेनॉल से चलाने की तैयारी

भारत सरकार लगातार पेट्रोल-डीजल की निर्भरता को खत्म करने के लिए वैकल्पिक ईंधन इस्तेमाल करने की सलाह लोगों को दे रही है. केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने हाल में कहा है कि आम लोगों के लिए सरकार बायोफ्यूल (BioFuel) आउटलेट्स खोलने जा रही है इथेनॉल (Ethanol) मिलेगा और इससे चलने वाली सभी कारें, बाइक्स और रिक्शा फ्लेक्स फ्यूल इंजन (Flex Fuel Engine) के साथ उपलब्ध कराए जाएंगे. भारत में प्रदूषण को कम करने पर तेजी से काम हो रहा है और इलेक्ट्रिक वाहनों के अलावा इथेनॉल के इस्तेमाल पर भी काफी जोर दिया जा रहा है.

इसके अलावा उन्होंने टेलीकॉम टॉवर्स में भी डीजल की जगह इथेनॉल के प्रयोग की बात कही हैं. नितिन गडकरी ने आगे कहा, “एविएशन इंडस्ट्री में भी इथेनॉल के प्रयोग की संभावनाएं तलाशी जा रही हैं. 2 साल पहले गणतंत्र दिवस परेड में फाइटर जेट्स ने हिस्सा लिया था जो 100 फीसदी बायो-इथेनॉल से उड़ाए गए थे. मैं एयर फोर्स चीफ और डिफेंस मिनिस्ट्री के अधिकारियों से इस बारे में बातचीत कर रहा हूं.”



इथेनॉल का प्रोडक्शन बढ़ाने पर जोर

नितिन गडकरी ने कुछ महीने पहले कहा था कि ऑटो रिक्शा से लेकर सभी महंगी लग्जरी कारों तक जल्द इथेनॉल से चल सकेंगी. केंद्रीय मंत्री ने एक बार फिर भारत में इथेनॉल के प्रोडक्शन को बढ़ाने की बात पर जोर दिया है और किसानों को सामान्य खेती की जगह इसके उत्पादन में काम आने वाली फसल उगाने को कहा है ताकि इसकी सप्लाई को बढ़ाया जा सके. उन्होंने सभी वाहनों को जल्द ही फ्लैक्स फ्यूल इंजन के साथ लाने की बात पर जोर दिया और कहा कि इस रास्ते 8 लाख करोड़ रुपये के ईंधन आयात को घटाया जा सकता है. इस आयात को घटाने की लिए उन्होंने इथेनॉल की जरूरत को भी समझाने की कोशिश की है.


コメント


bottom of page